1 November 2020

भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त हुए मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने निरंजन कुमार के खिलाफ आरोपों की जांच एसीबी से कराने का दिया आदेश

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने निरंजन कुमार (इंडियन पोस्ट एंड टीसी एकाउंट्स एंड फाइनांस सर्विस) के खिलाफ गंभीर आरोपों की जांच भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) से कराने का आदेश दिया है. उनके खिलाफ अपने पुराने परिचयों का दुरुपयोग कर जेयूएसएनएल तथा जरेडा का निदेशक बनने, उस पद हेतु  कोई भी तकनीकी अहर्ताएं पूरी नहीं करने, 27 जनवरी 2019 को प्रतिनियुक्ति अवधि समाप्त हो जाने के उपरांत  इनकी प्रतिनियुक्ति अवधि का विस्तार केंद्र सरकार अथवा डीओपीटी में अभी तक प्राप्त नहीं होने की शिकायत मिली है।

अवैध रुप से वेतन निकासी समेत कई और  आरोप

निरंजन कुमार के खिलाफ इस अवधि मे अपने वेतन की निकासी अवैध रुप से करने एवं सरकार के विभिन्न खातों से लगभग 170 करोड़ का भुगतान करने एवं सपरिवार  विदेश भ्रमण करने, अपनी संपत्ति विवरण में अपनी पत्नी के नाम से अर्जित संपत्ति का कोई विवरण नहीं देने तथा निविदा में मनमानी तरीके से किसी कंपनी विशेष को फायदा पहुंचाने तथा विभिन्न निविदा में बगैर बोर्ड की सहमति के निविदा की शर्तें बदलने का आरोप है।

भाजपा रघुवर दास सरकार में अपनी कुकृत्य से भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वाले सभी अधिकारियों की लिस्ट हेमंत सरकार के द्वारा तैयार की जा रही है धीरे धीरे सभी के ऊपर जांच बैठा कर कार्रवाई करने की तैयारी की जा रही जो कहीं ना कहीं भ्रष्टाचार में संलिप्त रहे हैं


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed